टीवी पर प्रसारित होने वाला एपिक कॉमेडी सीरियल ‘भाभी जी घर पर हैं’ आज भी लोगों के बीच अपनी पॉपुलैरिटी के लिए जाना जाता है. इस सीरियल में नज़र आने वाले हर किरदार का एक अलग ही अंदाज़ है जिसके चलते शो को एक अलग पहचान मिली है. यह शो दो पड़ोसियों मिश्रा और तिवारी परिवार को दिखाता है. एक और हैं तिवारी जी और उनकी वाइफ अंगूरी और दूसरी तरफ हैं विभूति नारायण मिश्रा और उनकी वाइफ अनीता यानी ‘गोरी मेम’. सीरियल में आसिफ शेख ने विभूति भईया का किरदार निभाया है और सीरियल में दिखाया जाता है कि विभूति नारायण मिश्रा ‘नल्ले’ यानी बेरोजगार हैं.

आज के इस आर्टिकल में हम आपको आसिफ शेख के बारे में ही बताने वाले हैं. आसिफ शेख वैसे तो कई फिल्मों और टीवी सीरियल्स में काम कर चुके हैं लेकिन उन्हें असली पहचान टीवी सीरियल भाभी जी घर पर हैं से ही मिली है. यही वो सीरियल है जिसमें बेरोजगार विभूति का किरदार निभाते-निभाते आसिफ घर-घर में पॉपुलर हो गए हैं. हालांकि, क्या आपको पता है कि टीवी सीरियल की ही तरह रियल लाइफ में भी एक बार आसिफ सच में बेरोजगार हो गए थे. नौबत यहां तक आ गई थी कि उन्हें गुजारा करने के लिए अपनी सोने की चेन तक बेचना पड़ी थी.

जी हां, खुद आसिफ शेख ने यह किस्सा सुनाया था और यह भी बताया था कि इसके बाद कौन शख्स उनकी मदद करने के लिए आगे आया था. आसिफ के अनुसार, सलमान खान ने उस मुसीबत की घड़ी में उनकी मदद की थी. आसिफ कहते हैं कि सलमान खान उनके बेहद अच्छे दोस्त हैं, यही नहीं सलमान खान के साथ उनके फैमिली टर्म्स भी हैं. आसिफ यह बताने में भी नहीं हिचकिचाते कि सलमान खान की मदद से ही उन्हें फिल्मों और अन्य प्रोजेक्ट्स में काम मिला था. आसिफ के अनुसार, सलमान खान के पिता सलीम खान साहब भी उन्हें और उनके परिवार को बेहद प्यार करते हैं.
बताते चलें कि आसिफ शेख को देखकर लोग अक्सर उनकी उम्र का अंदाज़ा नहीं लगा पाते हैं. हम आपको बता दें कि आसिफ की उम्र 55 साल के आस-पास है लेकिन टीवी पर वो 30 साल के नज़र आते हैं.