बॉलीवुड सेलेब्स अपनी प्रोफेशनल लाइफ से ज्यादा अपनी पर्सनल लाइफ की वजह से चर्चा में रहते हैं. सैफ अली खान भी उनमें से एक हैं. सैफ की लव लाइफ हमेशा से चर्चा में रही है. वजह उनकी शादियां हैं. सैफ ने पहली बार अपनी लव लाइफ को लेकर तब चर्चा बटोरी थी जब उन्होंने एक्ट्रेस अमृता सिंह से शादी कर ली थी. दोनों एक फोटोशूट के दौरान मिले, नजदीकियां बढ़ीं और इन्होंने किसी को बिना बताये चोरी-छुपे शादी कर ली. दोनों की उम्र में 12 साल का फासला है इसलिए इन्हें पता था कि ये शादी किसी को स्वीकार नहीं होगी. दरअसल, जब शादी हुई तो अमृता 32 साल की थीं और सैफ 21 साल के थे.

बहरहाल शादी होने के बाद घर वालों ने दोनों की जोड़ी को स्वीकार कर लिया था. कुछ सालों तक सबकुछ ठीक चला. दोनों दो बच्चों सारा अली खान और इब्राहिम अली खान पटौदी के पेरेंट्स बने.इनकी परवरिश के बीच दोनों के रिश्ते में दरार आनी शुरू हो गई. आखिरकार 2004 में दोनों ने आपसी सहमति से तलाक ले लिया. तलाक के बाद बच्चों की कस्टडी अमृता को मिली. इसके बाद सैफ ने एक इंटरव्यू में तलाक के बाद की ज़िंदगी का जिक्र किया था.

उन्होंने कहा था कि तलाक के बाद वह अपने दोनों बच्चों से मिलने के लिए तरस गए थे क्योंकि अमृता उन्हें बच्चों से मिलने ही नहीं देती थीं. सैफ ने कहा था, मैं और मेरी पत्नी अलग हो गए लेकिन साथ रहते हुए मुझे हर बार ये अहसास करवाया जाता था कि मैं कितना बुरा पति और कितना बुरा पति हूं. मेरे वॉलेट में बेटे इब्राहिम का फोटो था और हर बार उसे देखकर मुझे रोना आता था. मैं सारा को हर वक्त मिस करता था,मुझे अपने बच्चों से मिलने नहीं दिया जाता था, ना वो मेरे पास आ सकते थे.मेरे बच्चे अमृता के रिश्तेदारों और नौकरों के भरोसे पल रहे थे क्योंकि अमृता को टेलीविजन सीरियल की शूटिंग करने जाना होता था. अमृता को ऐसा करने की क्या जरूरत थी जब मैं अपनी फैमिली को सपोर्ट करने के लिए तैयार था.मुझे हर वक्त ये जताया जाता था कि मैं किसी काम का नहीं हूं. मेरी मां और बहनों पर गंदी फब्तियां कसी जाती थीं.