फिल्म ‘द डर्टी पिक्चर’ से अपनी ज़बरदस्त एक्टिंग का लोहा मनवा चुकीं एक्ट्रेस विद्या बालन आज घर-घर में जाना पहचाना नाम हैं. विद्या बालन ने फिल्म ‘द डर्टी पिक्चर’ में जानी-मानी एडल्ट स्टार रह चुकीं सिल्क स्मिता का किरदार निभाया था. इस फिल्म को मिलन लुथरिया ने डायरेक्ट किया था और यह फिल्म अपने समय की सबसे हिट फिल्म्स में से एक थी जिसने 100 करोड़ी क्लब में अपना नाम दर्ज करवाया था.

हालांकि, विद्या के लिए इस फिल्म को करना काफी चैलेंजिंग था. एक्ट्रेस की मानें तो द डर्टी पिक्चर की स्क्रीनिंग के दौरान उनके पेरेंट्स भी मौजूद थे और फिल्म देखने के बाद उनका रिएक्शन काफी चौंकाने वाला था. विद्या बालन ने बताया था कि इस फिल्म को देखने के बाद जहां उनके पिता ने उनके लिए तालियां बजाई थीं, वहीं उनकी मां फूट-फूटकर रो रहीं थीं.

विद्या कहती हैं, ‘द डर्टी पिक्चर की स्क्रीनिंग के समय मैं इस बात को लेकर चिंता में थी कि मेरे पेरेंट्स इस फिल्म को देखकर कैसे रिएक्ट करेंगे. मैं इसी उधेड़बुन में स्क्रीनिंग रूम के बाहर उनका इंतज़ार कर रही थी. हालांकि, बाहर आते ही मेरे पिता ने तालियां बजाते हुए कहा मुझे फिल्म में कहीं भी अपनी बेटी नज़र नहीं आई (यानी कि फिल्म में विद्या का करैक्टर उन्हें बेहद पसंद आया था).’

वहीं, विद्या आगे कहती हैं ‘द डर्टी पिक्चर देखकर मेरी मां फूट-फूट कर रोने लगीं थीं क्योंकि उन्हें ऑन स्क्रीन मुझे मरते हुए देख अच्छा नहीं लगा था’. विद्या ने यह भी बताया था कि फिल्म द डर्टी पिक्चर देखने के बाद उनकी मां ने उन्हें सबसे बड़ा कॉम्प्लीमेंट दिया था. बतौर कॉम्प्लीमेंट विद्या की मां ने उनसे कहा था कि वह फिल्म में कहीं से भी भद्दी या चीप नहीं लग रही हैं’.

विद्या के अनुसार, उन्हें ‘द डर्टी पिक्चर’ करने से पहले कई लोगों ने यह कहकर डराया था कि यह फिल्म उनके पूरे फ़िल्मी करियर को ख़त्म कर सकती है. विद्या की मानें तो लोग उनसे यहां तक कह देते थे कि वह पागल हो चुकी हैं जो ऐसे सब्जेक्ट्स की फिल्मों पर काम कर रहीं हैं. हालांकि, विद्या की मानें तो उन्होंने दूसरों की बातों से ज्यादा अपने अंदर से आई आवाज़ को तवज्जो दी थी. बताते चलें कि विद्या हाल ही में शकुंतला देवी बायोपिक में नज़र आई थीं. वहीं विद्या बालन की अपकमिंग फिल्म ‘शेरनी’ है.