कहा जाता है कि सच्चा दोस्त वही होता है जो दोस्त को मुश्किल परिस्थिति में देखकर उसकी मदद करें लेकिन बॉलीवुड इंडस्ट्री में इस दोस्ती की परिभाषा कुछ और ही है.

दरअसल, शाहरुख खान पिछले एक महीने से काफी परेशानियों से जूझ रहे थे क्योंकि उनके बेटे ड्रग्स मामले में पिछले एक महीने से मुंबई की आर्थर रोड जेल में थे. लेकिन काफी मशक्कत के बाद 30 अक्टूबर को उन्हें कोर्ट के द्वारा रिहा कर दिया गया, वहीं इस मुश्किल घड़ी में शाहरुख खान के करीबी कहे जाने वाले भी काम नहीं आए.

काजोल ने भी नहीं की मदद

बताया जाता है कि शाहरुख खान और काजोल के बीच काफी अच्छी दोस्ती है लेकिन मुश्किल वक्त में काजोल भी शाहरुख खान के काम नहीं आई. एक समय पर इनकी दोस्ती के काफी चर्चे किए जाते थे लेकिन मुश्किल वक्त में इन्होंने भी शाहरुख खान से दूरी बना ली.

दिलवाले दुल्हनिया ले जायेंगे फिल्म में एक साथ नजर आए शाहरुख खान और काजोल की जोड़ी पर्दे पर सभी को पसंद आती थी लेकिन असल जिंदगी में काजोल शाहरुख खान की मदद ही नहीं करना चाहती हैं और उन्होंने शाहरुख खान के बेटे की गिरफ्तारी पर कोई भी बयान तक नहीं दिया. काजोल देवगन शाहरुख खान के इस दुख के समय मे पता नही कहा गायब हो गयी थीं. काजोल को शाहरुख खान की सबसे अच्छी मित्र माना जाता है. लेकिन इस दुख के समय में वह भी शाहरुख खान के साथ नही थीं.

सैफ अली खान ने भी कर लिया किनारा

इन दोनों के बीच दोस्ती से भी बढ़कर रिश्ता बताया जाता है. सोशल मीडिया पर इनकी दोस्ती की काफी चर्चा होती है. लेकिन शाहरुख खान के इस मुश्किल वक्त में सैफ अली खान भी इनके काम नहीं आए और इन्होंने आर्यन की गिरफ्तारी पर एक भी बयान तक नहीं दिया.शाहरुख सैफ को अपने भाई की तरह मानते हैं लेकिन इस मुश्किल समय में सैफ भी सामने नहीं आए है. बोला जा रहा है कि सैफ अली खान को अपनी बदनामी का डर था और इसी वजह से वह आर्यन के बचाव में सामने नही आ रहे हैं और अभी तक कोई भी बयान नही दिया.