बॉलीवुड एक्टर सोनू सूद महामारी के दौर में ज़रूरतमंदों के लिए किसी मसीहा से कम नहीं हैं. अक्सर सोशल मीडिया पर सोनू सूद को लोगों की मदद करते देखा जा सकता है. बात चाहे दवाइयां या ऑक्सीजन पहुंचाने की हो या फिर कोई और मदद, सोनू सूद किसी को निराश नहीं करते हैं. शायद यही वजह है कि सोनू सूद की पॉपुलैरिटी उनके फैन्स के बीच कुछ ऐसी है कि उन्हें भगवान की तरह पूजा जाता है. जी हां, सोनू सूद के फैंस ने उनके नाम का एक मंदिर तक बनाया है जहां उनकी पूजा की जाती है.

आज के इस आर्टिकल में हम सोनू सूद की ही बात करेंगे और जानेंगे उनके करियर के शुरुआती दिनों के किस्से. ख़बरों की मानें तो सोनू सूद को बचपन से ही हीरो बनने का शौक था. सोनू सूद ने नागपुर से इलेक्ट्रॉनिक इंजीनियरिंग की पढ़ाई पूरी की थी, इसके बाद दिल्ली में उन्होंने कुछ दिन मॉडलिंग करके लगभग 5500 रुपए जोड़े थे. सोनू इन पैसे के सहारे मुंबई चले आए और फिल्मों के लिए संघर्ष करने की ठानी.

हालांकि, सोनू सूद की मानें तो उनके द्वारा सेव किए गए 5500 रुपए महज हफ्ते भर के अन्दर ही ख़त्म हो गए थे. मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो किस्मत ने ऐन मौके पर सोनू सूद का साथ दिया और उन्हें एक मॉडलिंग असाइनमेंट मिल गया जिससे उन्हें इतनी इनकम होने लगी की वो मुंबई में रहकर स्ट्रगल कर सकें. इसके बाद साल 1999 में सोनू सूद को तेलुगु फिल्मों में ब्रेक मिलना शुरू हुआ. सोनू की पहली तेलुगु फिल्म का नाम था कल्लाजगार था. वहीं, सोनू ने 2001 में बॉलीवुड में डेब्यू किया जिसके बाद उन्होंने कभी भी पीछे पलटकर नहीं देखा.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, महज 5500 रुपए लेकर मुंबई आने वाले एक्टर सोनू सूद का नाम आज इंडस्ट्री के चोटी के स्टार्स में लिया जाता है. ख़बरों की मानें तो सोनू सूद के पास आज की तारीख में 150 करोड़ की संपत्ति है. बताते चलें कि मुंबई में सोनू सूद एक आलीशान चार बेडरूम वाले घर में रहते हैं, 2600 स्क्वायर फीट के इस घर की कीमत ही करोड़ों रुपए बताई जाती है. सोनू ने अपनी गलफ्रेंड सोनाली से शादी की थी.