सिनेमा जगत के बारे में कहा जाता है कि यहां सितारों के बीच जितनी अच्छी दोस्ती होती है तो वहीं कुछ सितारों के बीच काफी कड़ी दुश्मनी भी होती है. वहीं शाहरुख खान और सनी देओल के रिश्ते भी किसी से छिपी नहीं है इन दोनों के बीच छत्तीस का आंकड़ा बना रहता है और यह दोनों अभिनेता एक दूसरे की शक्ल तक देखना पसंद नहीं करते हैं.

साल 1993 में आई फिल्म डर में शाहरुख खान और सनी देओल एक साथ किरदार निभाते हुए नजर आए थे, फिल्मी पर्दे पर इस जोड़ी को खूब पसंद किया गया था.
लेकिन बताया जाता है कि इस फिल्म की शूटिंग के समय ही इन दोनों एक्टरों के बीच कड़वाहट शुरू हो गई थी और यह कड़वाहट 16 साल तक बरकरार चली थी.

अभिनेता सनी देओल ने शाहरुख खान के बारे में एक बार बात करते हुए कहा था कि किसी दोस्त या करीबी की शादी में नाचना तो कहीं तक समझ में भी आता है लेकिन पैसों के लिए किसी की भी शादी में नाचना यह बिल्कुल भी अच्छी बात नहीं है. दरअसल बता दें, साल 2001 के आसपास शाहरुख खान पैसे लेकर शादियों में खूब नाचा करते थे.

बता दे, इसी दौरान सनी देओल ने शाहरुख खान को मुजरेवाली तक कह दिया था. हालांकि, यह विवाद तो इतना बड़ा नहीं था लेकिन सबसे बड़ी वजह बताई जाती है कि डर फिल्म के दौरान डायरेक्टर ने एक ऐसा सीन इन दोनों एक्टर्स को बताया था जिससे सनी देओल काफी खफा हो गए थे. दरअसल, स्क्रिप्ट के मुताबिक सनी देओल को शाहरुख खान को हिट करना था लेकिन इस पर सनी देओल ने डायरेक्टर से कई बार अपील की थी.

उन्होंने कहा था कि जब मुझे कोई सामने से आता दिख रहा है तो मैं उसके सामने आसानी से हिट हो जाऊं यह किरदार मुझे कुछ समझ नहीं आ रहा है. वहीं एक बार रजत शर्मा के शो आप की अदालत में भी सनी देओल ने डर फिल्म से जुड़ा एक किस्सा शेयर किया था. उन्होंने कहा कि” जब मैंने डायरेक्टर से इस चीज को ना करने की अपील की तो वह नहीं माने और मैं चुपचाप कोने में जाकर खड़ा हो गया था. मैंने अपनी जीन्स की जेब में हाथ डालकर उसे गुस्से में फाड़ दिया था.