Saif Ali Khan

साल 1993 में सैफ अली खान ने फिल्मी दुनिया में एंट्री मारी थी लेकिन क्या आप जानते हैं इस फिल्म से पहले उनको एक मूवी से निकाल दिया गया था जिसका नाम था बेखुदी। उस समय सैफ अपनी पढ़ाई पूरी करने के बाद फॉरेन से भारत वापस आए थे, और उन्हें इस फिल्म में कास्ट रोल के लिए चुना गया था। इस फिल्म में इनकी को एक्टर थी काजोल, आपको बता दें कि इस फिल्म में काजोल सैफ के ऑपोजिट थीं। आगे उन्होंने एक इंटरव्यू में बताया कि वह इस फिल्म में काम को लेकर सीरियस नहीं थे वह आगे बताते हैं उनका बिहेवियर डायरेक्टर को अनप्रोफेशनल लगा था वह अच्छे से काम पर ध्यान नहीं दे रहे थे।

Saif Ali Khan

इसके बाद इन को रिप्लेस करके कमल सदाना को इस फिल्म में कास्ट रोल दिया गया। बात उस दौरान की है जब सैफ काजोल के साथ गाने की शूटिंग कर रहे थे उन्होंने बताया कि उनको इस गाने में झूठे आंसू से दर्द वाला एक्सप्रेशंस करना था लेकिन एक लाइन गाते ही उनके चेहरे के हावभाव ही बदल जाते थे जिसके बाद डायरेक्टर को लगने लगा कि वह इस फिल्म में इंटरेस्ट नहीं ले रहे हैं। सैफ ने कहा चाहत की राहों में क्यों इतना डरती है, लेकिन उनके लिए आंसुओं वाले एक्सप्रेशंस रखना आसान नहीं था, क्योंकि चाहत की राहों से लेकर क्यों इतना डरती है लाइन पर पहुंचते-पहुंचते उनके चेहरे का हाव भाव पूरा बदल जाता था।

Saif Ali Khan

यह सब देख उन्हें इस फिल्म से निकाल दिया गया था। यह किस्सा उस दौरान का है जब वह इंग्लैंड से पढ़ाई पूरी करके लौटे थे। जैसा कि अक्सर होता है किसी भी एक्टर के लिए पहला शूटिंग नर्वस करने वाला होता है और उनके साथ भी ऐसा ही हुआ था। उन्हें लगता है कि वह उस सीन को आज बखूबी ढंग से कर सकते हैं, आपको बता दें कि सैफ ने इस मूवी को करने से कुछ महीनों पहले ही अमृता सिंह से शादी की थी।

Saif Ali Khan

खैर…….. वक्त बदला चीजें बदली और सैफ को मिली फिल्म परंपरा पूरी तरह फ्लॉप रही, और यह भी बता दें कि जिस फिल्म से उन्हें निकाला गया था वह भी फ्लॉप साबित हुई थी ।