राखी सावंत ने बताया बॉलीवुड के ज़्यादातर स्टार्स क्यों लेते हैं ड्रग्स और क्या है इनकी मजबूरी.

1420

एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री में ड्रग्स के मुद्दे की अब हर ओर चर्चा हो रही है। राखी सावंत की मानें तो कई एक्टर्स ऐसे ड्रग्स लेते हैं जिनसे उन्हें भूख ना लगे। हाल ही में राखी ने बताया कि कई लोग खुद को स्लिम-ट्रिम रखने के लिए अलग-अलग प्रकार के ड्रग्स लेते हैं। हालांकि ये हाल सिर्फ इंडस्ट्री में ही नहीं बल्कि देश भर में हैं।

राखी सावंत ने बताया ‘आखिर सेलेब्स क्यों करते हैं नशा?’

बता दें कि राखी सावंत ने अपने एक हालिया इंटरव्यू में बॉलीवुड इंडस्ट्री में चल रहे ड्रग्स के बवाल को लेकर खुलकर बातचीत की है। उन्होंने कहा कि मैं पिछले 15 सालों से बॉलीवुड इंडस्ट्री में एक्टिव हूं, मैं ऐसे कई अभिनेताओं और अभिनेत्रियों को जानती हूं, जो ड्रग्स का सेवन करते हैं। राखी कहती हैं कि ये कलाकार अपने ग्लैमर को मेंटेन करने के लिए ड्रग्स लेते हैं, हालांकि कुछ लोग नशे के लिए भी ड्रग्स लेते हैं। मगर ज्यादातर सेलेब्स अपने ग्लैमरस अंदाज को बरकरार रखने के लिए ड्रग्स का सेवन करते हैं।

यकीन मानिए एक्टर्स ज्यादातर वीड (ड्रैग का एक प्रकार) लेते हैं जिनसे उन्हें भूख नहीं लगती। लड़कियां पतली-दुबली रहती हैं, जिसकी वजह से उन्हें कई प्रोजेक्ट्स मिलते हैं, कैमरा के सामने वे दुबली दिखती हैं। कई एक्ट्रेस पर उनका वजन ना बढ़ जाए इसका प्रेशर होता है। उन्हें डर रहता है कि यदि उनका वजन बढ़ गया तो उन्हें काम नहीं मिलेगा जिससे वे डिप्रेशन में भी चली जाती हैं। अपनी भूख मिटाने के लिए वे लोग ड्रग्स लेते हैं।

राखी सावंत ने अनुभव साझा करते हुए कहा कि कुछ समय पहले तक मैं खुद वजन बढ़ने की बात को लेकर काफी परेशान थी। उस समय मैं इंडस्ट्री के कई लोगों से बात करती थी, तो वे लोग मुझे ड्रग्स और हैश लेने की सलाह देते थे। कुछ लोगों ने तो मुझसे ये तक कहा था की ये काफी आम बात है, बहुत लोग स्लिम रहने के लिए इसका यूज करते हैं। राखी ने आगे कहा कि मैं उस सुझाव से सहज नहीं थी और मैंने ड्रग्स की जगह योगा को चुना। उन्होंने बताया कि बहुत से बॉलीवुड स्टार स्लिम रहने के लिए शॉर्टकट लेते हैं, लेकिन ये गलत है।

पूरे हिंदुस्तान में लोग ड्रग्स का उपयोग कर रहे हैं, सिर्फ बॉलीवुड में ही नहीं:

सच कहूं तो मैं इंडस्ट्री के कई लोगों को जानती हूं जोकि ड्रग्स का सेवन करते हैं हालांकि मुझे कोई अधिकार नहीं हैं उनके नाम लेने का। हिंदुस्तान में हर जगह-जगह लोग ड्रग्स का उपयोग कर रहे हैं, सिर्फ बॉलीवुड में ही नहीं। देखिए, मेरे हिसाब से फिल्म नगरी एक सपनों की नगरी मानी जाती है। यहां कई लोगों के सपने पूरे होते हैं। कुछ खराब लोग की वजह से इंडस्ट्री का नाम खराब हो रहा है। मैं आने वाली जेनरेशन से यही निवेदन करुंगी कि यदि वे इस इंडस्ट्री से जुड़ना चाहते हैं तो अपने घरवालों का साथ ना छोड़े। यदि बच्चे अकेले रहेंगे तो गलत राह पर जाने का डर जरूर होगा। शूटिंग पर कोई गलत काम नहीं होता, इसीलिए बॉलीवुड को बदनाम करना गलत होगा। कोई किसी पार्टी या अपने घर पर गलत काम कर रहा है तो इसमें बॉलीवुड का क्या कसूर?

इसमें कोई दो राय नहीं है कि लोग ड्रग्स को बॉडी फैट-कटर, डिप्रेशन-कटर के तौर पर इस्तेमाल करते हैं। इंडस्ट्री में बहुत कम्पटीशन है, इस प्रेशर में भी लोग ड्रग्स लेते हैं ताकि वे इसमें सर्वाइव कर पाएं।

लोग सिर्फ बॉलीवुड को गटर क्यों बोल रहे हैं?

मैं समझ नहीं पा रही हूं कि लोग सिर्फ बॉलीवुड को गटर क्यों बोल रहे हैं? देखिए इस बात को हमें स्वीकार करना होगा कि पूरी दुनिया में ड्रग्स का सेवन किया जाता है। कोई ये ना भूले की सिर्फ पंजाब (उड़ता पंजाब फिल्म) में ही नहीं पूरे भारत में ड्रग्स का व्यापार होता है और लोग इसका सेवन करते हैं। लेकिन सिर्फ बॉलीवुड के लोगों को टारगेट किया जा रहा है।

राखी सावंत यहीं नहीं रूकीं बल्कि उन्होंने आगे कहा कि ड्रग्स और नशे का धंधा ना सिर्फ बॉलीवुड में चल रहा है बल्कि पूरे देश का यही हाल है। राखी कहती हैं कि सिर्फ बॉलीवुड को गटर कहा जाना गलत है, ड्रग्स का सेवन पूरी दुनिया में किया जाता है, ऐसे में  सिर्फ बॉलीवुड को टार्गेट करना गलत है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here