राजकुमार वह नाम है जिसने हिंदी सिनेमा में काफी समय तक राज किया लेकिन एक वह दौर था जब राजकुमार को फिल्मों में आने के लिए उन्हें उनके एक सिपाही साथी ने प्रेरित किया था।

सनकी, बेबाक,अक्खड यह वो शब्द है जो एक्टर राजकुमार के लिए प्रयोग किए जाते थे, राजकुमार अपने दौर के वो एक्टर थे जिन्हें अपने दमदार एक्शन और रॉबली आवाज के लिए जाना जाता था । विलेन पर हावी रहने वाले राजकुमार अपनी रियल लाइफ में लाजवाब व्यक्तित्व और मजाकिया स्वभाव और बिना लाग लपेट बात करने  के लिए जाने जाते थे। आज भले ही वो इस दुनिया में नहीं हैं, लेकिन उनकी फिल्में और उनसे जुड़े कई मज़ेदार किस्से आज भी मौजूद है, और उन्हीं किस्सों में से एक किस्सा ये भी है कि एक बार उन्होंने एक डायरेक्टर को कह दिया था कि ये फिल्म तो मेरा कुत्ता भी नहीं करेगा।

Raajkumar

1968 में आई फ़िल्म “आंखें” में डायरेक्टर रामानंद सागर राजकुमार लेना चाहते थे लेकिन जब रामानंद सागर राजकुमार के पास इस फ़िल्म की स्क्रिप्ट लेकर पहुंचे तो राजकुमार ने अपने पेट डॉग यानी अपने कुत्ते को आवाज लगाई। और वह उससे पूछने लगे कि क्या वह इस फिल्म में काम करेगा। ऐसा बताया जाता है कि जब कुत्ते का कोई रिएक्शन नहीं आया तो राजकुमार ने रामानंद सागर से कहा देखो यह रोल तो मेरा कुत्ता भी नहीं करना चाहता, उसके बाद रामानंद सागर वहां से चले गए जिसके बाद से दोनों ने साथ में कभी काम नहीं किया।

अपनी रॉबली आवाज और डायलॉग डिलीवरी के कारण लोग आज भी राज कुमार को याद करते हैं, उनके डायलॉग आज भी हर शख्स की जुबान पर सुनने को मिल जाता है, इन सबके अलावा राजकुमार अपनी शानो-ओ-शौकत वाली जिंदगी और हाजिर जवाबी के लिए भी जाने जाते थे। वह कब किसकी बेइज्जती कर दें वह कोई नहीं जानता था।

raaj kumar

आपको बता दे कि राजकुमार फिल्मों में आने से पहले एक पुलिस वाले हुआ करते थे। उनकी आवाज और एक्शन को देख कई लोगो ने उन्हें फिल्मों में काम करने की सलाह दि। राजकुमार ने  लोगों की इस बात पर ध्यान दिया और पुलिस की नौकरी छोड़ दी और निकल पड़े फिल्मों की रंगीन दुनिया का हिस्सा बनने। राजकुमार की सबसे पहली फिल्म थी रंगीली इसके बाद उन्होंने पाकीजा, सौदागर, तिरंगा जैसी शानदार फिल्में दी।

उनके कई प्रसिद्ध डायलॉग हैं जिनमें से एक आज भी लोगों की जुबान पर रहता है “जानी हम तुम्हें मारेंगे और जरूर मारेंगे ,पर बंदूक भी हमारी होगी और गोली भी हमारी होगी और वक्त भी हमारा होगा”, “हमको मिटा सके यह जमाने में दम नहीं जमाना हमसे है जमाने से हम नहीं”।