ऋषि कपूर-रणधीर कपूर के छोटे भाई और राज कपूर के छोटे बेटे राजीव कपूर का 9 फरवरी को निधन हो गया. राजीव 58 साल के थे और कार्डियक अरेस्ट के चलते उन्होंने मंगलवार को अंतिम सांस ली. मंगलवार शाम राजीव का अंतिम संस्कार मुंबई में कर दिया गया. इस दौरान रणधीर कपूर, रणबीर कपूर और बाकी कपूर परिवार के सदस्य राजीव को गमगीन आंखों से अंतिम विदाई दी. राजीव का जन्म 25 अगस्त, 1962 को मुंबई में हुआ था. उन्होंने फिल्म एक जहां हैं हम से बॉलीवुड में 1983 में डेब्यू किया था. यह फिल्म असफल रही थी जिसके बाद राज कपूर ने उन्हें राम तेरी गंगा मैली से दोबारा लॉन्च किया जो कि सुपरहिट रही.

राजीव की पर्सनल लाइफ की बात करें तो ये काफी उतार-चढ़ाव भरी रही. उन्होंने 2001 में आर्किटेक्ट आरती सभरवाल से लव मैरिज की थी. आरती से राजीव की शादी ज्यादा नहीं टिक सकी और दो सालों में ही दोनों का रिश्ता टूट गया. 2003 में दोनों ने तलाक लेकर अपनी राहें जुदा कर लीं. हालांकि, राजीव से रिश्ता टूटने के बावजूद आरती कपूर परिवार से जुड़ी रहीं. उधर राजीव पुणे चले गए और काफी सालों तक अकेले ही वहां जीवन गुजारा. इस दौरान राजीव ने बतौर डायरेक्टर और प्रोड्यूसर फिल्मों में अपनी दूसरी पारी शुरू की.

उन्होंने ऋषि कपूर को बतौर हीरो लेकर प्रेम ग्रंथ बनाई जो कि फ्लॉप रही. इसके बाद ऐश्वर्या राय और अक्षय खन्ना की फिल्म आ अब लौट चलें से बतौर प्रोड्यूसर भी जुड़े रहे. राजीव चेंबूर में अपने घर में अकेले ही जीवन गुजार रहे थे. जब उनकी तबियत खराब हुई तो सबसे पहले बड़े भाई रणधीर कपूर उन्हें पास के अस्पताल लेकर पहुंचे जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. रणधीर अपने छोटे भाई की मौत से बेहद गमगीन हैं. इससे पहले 10 महीने पहले उन्होंने अपने एक और छोटे भाई ऋषि कपूर को खो दिया था. 30 अप्रैल, 2020 को ऋषि की कैंसर के चलते मौत हो गई थी.