एक्टर पंकज त्रिपाठी (Pankaj Tripathi) आज घर-घर में जाना पहचाना नाम हैं. अपनी शानदार एक्टिंग और सरल व्यक्तित्व से पंकज ने अपने फैन्स के दिलों में एक अलग ही जगह बनाई हुई है. आपको बता दें पंकज आज जहां हैं वहां तक पहुंचने के लिए उन्हें बेहद मेहनत करना पड़ी थी. लगभग 6 सालों का एक ऐसा समय पंकज ने काटा है जिस दौरान काम मांगने पर भी उन्हें कोई भाव नहीं देता था. हालांकि, समय ने अपनी करवट बदली और आज स्थिती कुछ और है.

हाल ही में एक्टर पंकज त्रिपाठी ने अपने संघर्ष के दिनों को याद किया है और इससे जुड़ा एक दिलचस्प किस्सा शेयर किया है. पंकज की मानें तो साल 2004 से लेकर 2010 यानी की पूरे 6 साल उनके लिए काफी संघर्षों वाले रहे थे. इस दौरान पंकज त्रिपाठी ने हर उस दरवाजे पर दस्तक दी थी जहां से उन्हें काम मिल सकता था लेकिन सिर्फ निराशा ही हाथ लगी थी. पंकज कहते हैं, ‘मैं छह सालों तक अंधेरी, मुंबई में घूम-घूम पर लोगों से कहता रहा कि कोई मुझसे एक्टिंग करवा लो…लेकिन किसी ने एक ना सुनी’.

पंकज बताते हैं कि अब ऐसा नहीं है, अब लोग आगे बढ़कर उनके साथ काम करना चाहते हैं, यहां तक कि फिल्ममेकर्स उनकी पार्किंग तक काम ऑफर के लिए चले आते हैं. पंकज कहते हैं, ‘अब फिल्ममेकर्स मुझे कॉल करके पूछते हैं कि तुम कहां हो ? हमें तुम्हारे साथ फिल्म करना है प्लीज एक बार नरेशन सुन लो’. आपको बता दें कि आज पंकज की गिनती इंडस्ट्री के सबसे चर्चित स्टार्स में होती है. पंकज ने अपने संघर्ष के दिनों को याद करते हुए एक और बात कही है, ‘पंकज कहते हैं कि 6 साल चले संघर्ष के दौरान उन्होंने कोई कमाई नहीं की थी, ऐसे में घर चलाने और सभी खर्चे उठाने की जिम्मेदारी उनकी वाइफ मृदुला ने ही निभाई थी’. बताते चलें कि हाल ही में पंकज की फिल्म ‘मिमी’ भी रिलीज हुई है, जिसमें एक्टर के काम की काफी तारीफ हो रही है. फिल्म ‘मिमी’ में पंकज के साथ ही एक्ट्रेस कृति सेनन भी नज़र आई हैं. इससे पहले पंकज फिल्म ‘गैंग्स ऑफ़ वासेपुर’ और वेबसीरीज ‘मिर्ज़ापुर’ में अपनी एक्टिंग का जलवा दिखा चुके हैं.