बॉलीवुड के मशहूर और सबसे बेहतरीन अभिनेताओं में से एक मनोज बाजपेयी ने साउथ कि फिल्मों को लेकर चुप्पी तोड़ी है. अपनी जानदार अदाकारी के लिए फेमस अदाकार मनोज बाजपेयी ने साउथ की फिल्मों के लेकर कहा कि 1000 करोड़ कमाने वाली फिल्में कैसी हैं इस पर कोई बात नहीं कर रहा है, बस लोग सिर्फ नंबर्स पर बात किए जा रहे हैं. साउथ और बॉलीवुड को लेकर इन दिनों थोडा माहोल गर्म दिखाई दे रहा है. कभी हिन्दी भाषा को लेकर तो कभी साउथ को कोई कलाकार कहे देता है कि बॉलीवुड उन्हें अफोर्ड नहीं कर पाएगा.

मनोज बाजपेयी बोले- फिल्म कैसी है इस पर कोई बात तक नहीं कर रहा

अपने एक इंटरव्यू के दौरान मनोज ने साउथ की फिल्मों को लेकर कहा, ‘कोई बात तक नहीं कर रहा कि फिल्म कैसी है. कोई फिल्म की पर्फार्मेंस को लेकर बात करने के लिए राजी नहीं है. इसको लेकर किसी ने बात नहीं कि, फिल्म में बाकी डिपार्टमेंट का क्या योगदान है. हस सब सिर्फ 1000 करोड़, 400 करोड़ और 300 करोड़ में फस गए हैं. ये लड़ाई कई सालों से चलती आ रही है और मुझे लगता है ये खत्म होने वाली भी नहीं है.’

क्रिटिक्स को लेकर बोले- ये मेन स्ट्रीम वालों को कठघरे में खड़ा कर रहे हैं

अपने साक्षात्कार में आगे बात करते हुए मनोज बाजपेयी ने कहा कि, ‘अब क्रिटिक्स कहे रहे हैं कि क्यों आप उनकी जैसी फिल्में नहीं बनते? ये सवाल उनसे पूछा जा रहा है, जो मेन स्ट्रीम में हैं. मेन स्ट्रीम को उन्हीं के मेन स्ट्रीम के ज़रिए कठघरे में खड़ा किया जा रहा है.’

ओटीटी को लेकर बोली ये बात

अपने इंटरव्यू में आगे बढ़ते हुए उन्होंने कहा कि, ‘हमारे लिए थियेटर्स में फिल्में रिलीज करना पहले ही बहुत मुशकिल था, अब ये 1000 करोड़ कमाने वाली फिल्मों के चलते और मुशकिल हो गया है. ओटीटी प्लेटफार्म हमारे और हम जैसे दूसरे प्रतिभाशाली लोगों के लिए एक वरदान साबित हुआ है. यह देखकर वाकई अच्छा लगता है कि ओटीटी के चलते हम सब इतना बिजी हैं, और हम सबको इतना अच्छा काम करने को मिल रहा है.

यह भी पढ़ें – साउथ सुपरस्टार महेश बाबु का बड़ा ब्यान, कहा बॉलीवुड नहीं कर सकता मुझे अफॉर्ड, हिन्दी सिनेमा में काम करना बताया टाइम की बर्बादी
बॉलीवुड और साउथ की लड़ाई में कुछ दिन पहले कूदे थे महेश बाबू

साउथ के सुपरस्टार महेश बाबू भी कुछ दिन पहले इस लड़ाई में दिखाई दिए थे. महेश बाबू ने बॉलीवुड के बारे में बोलते हुए कहा था कि, ‘बॉलीवुड उन्हें अफोर्ड नहीं कर सकता है’ महेश की इस बात को लेकर उन्हें खूब ट्रोल किया गया था. ट्रोल होने के बाद महेश ने अपनी सफाई पेश करते हुए कहा थी कि वो तो मज़ाक कर रहे थे.

यह भी पढ़ें – जानिए एक फिल्म के लिए कितनी फीस लेते हैं महेश बाबु, जो बॉलीवुड नहीं कर सकता उन्हें अफॉर्ड