बॉलीवुड अभिनेता कबीर बेदी ने अपनी बायोग्राफी लिखी है जिसका नाम है: स्टोरीज आई मस्ट टेल है. यह किताब लॉन्च हो गई है और लॉन्च होते ही ये चर्चा में आ गई है. दरअसल इस किताब में कबीर ने अपनी पर्सनल लाइफ से जुड़े कई खुलासे किए हैं. खासकर उन्होंने परवीन बाबी से अपने अफेयर को लेकर कई बातें लिखी हैं.

कबीर ने खुलासा किया है कि उन्होंने परवीन के लिए अपनी पहली पत्नी प्रोतिमा बेदी को छोड़ दिया था. उनका कहना है कि प्रोतिमा से शादी के कुछ सालों बाद ही उन्हें नीरस और अकेला लगने लगा था. दोनों के बीच में इंटीमेसी भी नहीं बची थी और ना ही उन्हें वैसा प्यार और अपनापन मिल पा रहा था जिसकी उन्हें तलाश थी. उनकी ज़िंदगी के इस खालीपन को परवीन बाबी ने भर दिया था. एक रात उन्होंने पत्नी प्रोतिमा को परवीन के साथ अफेयर के बारे में बताते हुए सिर्फ इतना कहा, मैं रात को परवीन के घर जा रहा हूं और वहीं रुकूंगा.

प्रोतिमा ने कहा-तुम रात को क्या यहां नहीं रुकोगे? इसपर कबीर ने कहा, नहीं ना आज और ही आगे कभी. प्रोतिमा समझ गईं और उन्होंने गहरी सांस भरते हुए पूछा, क्या तुम उसे प्यार करते हो? क्या वो तुम्हें प्यार करती है. मैंने कहा हां.इसके बाद प्रोतिमा ने कहा तुम चले जाओ और मुझे अकेला छोड़ दो प्लीज. इसके बाद कबीर परवीन के साथ रिलेशनशिप में रहे लेकिन जल्द ही यहां भी परेशानियां होने लगीं. परवीन मानसिक परेशानी से जूझ रही थीं. वह सिजोफ्रेनिया की शिकार थीं.कबीर ने कहा कि वह परवीन की बहुत मदद करना चाहते थे लेकिन वह उन्हें ऐसा नहीं करने देती थीं.मानसिक अवस्था खराब होती गई और कबीर के पास परवीन को छोड़कर जाने के अलावा कोई चारा नहीं बचा.

2005 में मल्टीपल ऑर्गन फेल्यौर के कारण परवीन की मौत हो गई. कबीर बोले, आखिर में मैं समझ पाया कि परवीन को कितनी दर्दनाक मौत मिली थी. उनकी लाश चार दिन बाद उनके जुहू फ्लैट में मिली थी, उनका पैर गैंगरीन से सड़ चुका था, बिस्तर के पास एक व्हीलचेयर थी. करोड़ों फैन्स के दिलों की धड़कन एक स्टार की अकेली और बेहद दर्दनाक मौत नसीब हुई थी. उनके अंतिम संस्कार में हम तीन लोग पहुंचे जिन्होंने उन्हें कभी प्यार किया था-महेश भट्ट, डैनी और मैं, हमने जुहू के मुस्लिम कब्रिस्तान में उन्हें दफनाया.