फिल्मों में विलेन का रोल निभाने के लिए मशहूर अभिनेता गुलशन ग्रोवर ने अपने धांसू अंदाज और बेहतरीन एक्टिंग के दम पर सिनेमा जगत में अपनी एक खास पहचान बनाई है. बैडमैन के नाम से मशहूर इस एक्टर ने अपनी शानदार अदाकारी का जलवा दिखा कर हिंदी सिनेमा की एक से एक सुपरहिट फिल्म में काम किया है.

गुलशन ग्रोवर का फिल्मी कैरियर बेहद ही शानदार लम्हों से गुजरा रहा है. बात करें इनके फिल्मी करियर की तो उन्होंने ज्यादातर फिल्मों में नकारात्मक किरदार यानी विलेन के रोल ही निभाए हैं और ख़ूब पॉपुलैरीटी बटोरी है.

गुलशन ग्रोवर के धांसू अंदाज़ को लोग आज भी याद करते हैं. 21 सितंबर 1955 को जन्मे गुलशन ग्रोवर की शुरुआती शिक्षा दिल्ली में रहकर हुई. साधारण परिवार से ताल्लुक रखने वाले गुलशन ग्रोवर को पढ़ाई के दौरान काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा था क्योंकि इनके घर की स्थिति इतनी अच्छी नहीं थी की ये एक अच्छे स्कूल में पढ़ सकें, इसलिए इन्होंने एक सामान्य स्कूल में दाखिला ले लिया और घर से 9 किलोमीटर की दूरी पर पैदल ही स्कूल जाया करते थे. पढ़ाई पूरी करने के बाद गुलशन ग्रोवर एक्टिंग में कैरियर बनाने के लिए मुंबई चले आए और यहां पर उन्हें काफी स्ट्रगल करने के बाद थिएटर ज्वाइन करने का मौका मिला.

साल 1980 में आई फिल्म पांच से गुलशन ग्रोवर के फिल्मी सफर की शुरुआत हुई थी इसके बाद तो फिल्मों का सिलसिला कभी थमा ही नहीं और उन्होंने शानदार फिल्मों में काम किया जिनमें सोनी महिवाल, दूध का कर्ज, इज्जत, सौदागर, कुर्बान, राम लखन,अवतार, क्रिमनल, मोहरा, दिलवाले, हिंदुस्तान की कसम, हेराफेरी, इंटरनेशनल खिलाडी, लज्जा, एक खिलाडी एक हसीना, दिल मांगे मोर, एजेंट विनोद, जैसी फिल्में शामिल हैं.

गुलशन ग्रोवर की पर्सनल लाइफ के बारे में बात करें तो इन्होंने साल 1998 में पहली शादी की थी लेकिन कुछ ही दिनों बाद दोनों में तलाक हो गया. इसके बाद उन्होंने दूसरी शादी रचाई लेकिन वह शादी भी ज्यादा दिन तक नहीं चल पाई. और दोनों में 3 साल बाद तलाक हो गया. वर्तमान समय में गुलशन ग्रोवर अपने बेटे के साथ रहते हैं जो कि उनकी दूसरी पत्नी से हैं.