टेलीविजन के सबसे पॉपुलर टीवी सीरियल तारक मेहता का उल्टा चश्मा (Tarak Mehta Ka Ooltah Chashmah)में जेठालाल का किरदार निभाकर रातोंरात पॉपुलर हुए दिलीप जोशी आज घर-घर में जाना पहचाना नाम हैं. उन्हें असली नाम से कम और जेठालाल के नाम से सारी दुनिया जानती है. इस किरदार को दिलीप जोशी ने इतने बेहतरीन ढंग से निभाया है कि हर कोई उनकी तारीफ करते नहीं थकता लेकिन क्या आपको मालूम है कि कभी दिलीप एक्टिंग छोड़ने का मन बना चुके थे? जी हां, अगर दिलीप जोशी को तारक मेहता का उल्टा चश्मा ऑफर नहीं होता तो वह एक्टिंग छोड़ देते.

दरअसल, एक इंटरव्यू में दिलीप जोशी ने ये किस्सा खुद सुनाया था. उन्होंने कहा था, तारक मेहता का उल्टा चश्मा ऑफर होने से एक साल पहले तक मैं बेरोजगार था, मेरे पास कोई काम नहीं था, जिस सीरियल में मैं काम कर रहा था वो ऑफ एयर हो चुका था और मेरे पास करने लायक कुछ नहीं बचा था. स्थिति यहां तक पहुंच गई थी कि बेरोजगारी की वजह से मैं एक्टिंग की दुनिया छोड़कर किसी दूसरे फील्ड में करियर बनाने की प्लानिंग में था तभी मुझे तारक मेहता शो का ऑफर मिला और इसके बाद मैंने दोबारा कभी पलटकर नहीं देखा.

एक इंटरव्यू में शो के प्रोड्यूसर असित कुमार मोदी ने बताया था कि दिलीप जोशी को शो की दो किरदारों चंपकलाल और जेठालाल निभाने का मौका मिला दिया था. उन्होंने चंपकलाल का रोल ठुकरा दिया था और जेठालाल के किरदार को निभाने में भी थोड़े संशय में थे. मैंने उन्हें भरोसा दिलाया कि वो इस किरदार को अच्छे से निभा ले जाएंगे. बस फिर क्या था, वो मान गए और उन्होंने इस रोल में कमाल कर दिया. एक इंटरव्यू में दिलीप जोशी से ये भी पूछा गया था कि 13 साल से एक ही किरदार करते-करते वो बोर नहीं हो गए तो उन्होंने कहा था कि जेठालाल का किरदार इतने दिलचस्प तरीके से लिखा गया है कि उसे निभाकर कही बोरियत नहीं होती है.आपको बता दें कि यह शो 28 जुलाई, 2008 से ऑन एयर हुआ था और 13 साल बाद भी इसकी पॉपुलैरिटी आज तक बरकरार है.