हर महकमे में कुछ ना कुछ ऐसे अधिकारी जरूर होते हैं जो अपनी धार धार छवि के लिए जाने जाते हैं. इन्हीं अधिकारियों में से एक हैं नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े, जिनको उनकी सख्त छवि के लिए पहचाना जाता है.

ड्रग्स मामले में यह कई बड़े बड़े चेहरों को जेल के पीछे पहुंचा चुके हैं. बता दें, समीर वानखेडे को 6 महीने का एक्सटेंशन आर्डर मिल गया है. अब खबरों के मुताबिक बॉलीवुड से ड्रग्स सफाया का काम जारी रहेगा, कुछ रिपोर्ट्स के मुताबिक समीर वानखेडे बेहद सख़्ती से आरोपियों के साथ पेश आते हैं.

गौरतलब है कि 2 अक्टूबर को ड्रग्स मामले में गिरफ्तार हुए शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान भी इन्हीं की वजह से जेल से बाहर नहीं आ पा रहे हैं क्योंकि एनसीबी लगातार इनकी जमानत का विरोध कर रही है. बता दें, ड्रग्स के जो मामले पहले सालभर में 30 या 35 दर्ज होते थे, अब उनकी संख्या बढ़कर 90 से ऊपर पहुंच गई है. समीर वानखेड़े के वज़ह से राजनीति से लेकर बॉलीवुड तक में पैंठ रखने वाले ड्रग्स सिंडिकेट में हलचल मचना तय है. सुशांत सिंह राजपूत हत्या मामले से खबरों में आए समीर वानखेड़े को उनके नॉनसेंस’ एटिट्यूड के लिए जाना जाता है.

बता दें,सूत्रों का कहना है कि पहले ड्रग्स मामले के आरोपी जल्द ही बाइज्जत बरी हो जाते थे और उन पर आगे कोई भी कार्यवाही नहीं की जाती थी लेकिन जब से समीर वानखेड़े यहां पहुंचे हैं तब से ड्रग्स माफियाओं को लगातार जेल के दर्शन करा रहे हैं. बता दें, समीर वानखेड़े और उनकी टीम को गृह मंत्रालय के द्वारा सम्मानित भी किया जा चुका है. बड़े-बड़े सेलेब्रिटीज़ के सामने एक ढाल बनकर खड़े हो जाने वाले समीर वानखेडे समय-समय पर सेलिब्रिटीओं को आईना दिखाते रहते हैं.

बता दें, हाल ही में आई एक खबर के मुताबिक समीर वानखेड़े ने कहा कि मुंबई पुलिस के कुछ आदमी उनका पीछा कर रहे हैं. मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो ओशिवारा पुलिस ने उस स्थल की सीसीटीवी फुटेज ली है. जहां पर समीर अपनी मां के देहांत के बाद हर रोज जाते हैं.