बॉलीवुड की जानी-मानी अभिनेत्री शशिकला (Shashikala) का 88 साल की उम्र में मुंबई में निधन हो गया. 4 अप्रैल को उन्होंने अंतिम सांस ली.शशिकला काफी समय से बीमार चल रही थीं. शशिकला ने तकरीबन 100 से ज्यादा बॉलीवुड फिल्मों में काम किया था. ज्यादातर फिल्मों में वह सपोर्टिंग एक्ट्रेस के तौर पर नजर आई थीं. शशि कला की मौत पर कई बॉलीवुड सेलेब्स ने शोक जताया है.


शशिकला एक ऐसी अभिनेत्री रहीं जिन्होंने अपने निजी जीवन में कई उतार-चढ़ावों का दौर देखा. शशिकला का बचपन काफी शानोशौकत में बीता. उनके पिता बहुत बड़े बिजनेसमैन थे लेकिन फिर एक बिजनेस के घाटे ने सबकुछ बदलकर रख दिया. शशिकला ने परिवार को आर्थिक तंगी से बाहर निकालने का बीड़ा उठाया और परिवार के साथ मुंबई आ गईं. उनके पिता ने सोचा कि बेटी को बॉलीवुड में काम मिल जाएगा लेकिन ये इतना आसान नहीं था. काम ना मिलने पर शशिकला को लोगों के घरों में झाड़ू-पोछाकर परिवार का पेट पालने के लिए मजबूर होना पड़ा. फिर एक्ट्रेस नूरजहाँ से एक मुलाकात ने उनकी किस्मत पलट दी. नूरजहाँ ने उन्हें पति शौकत की फिल्म जीनत में काम दिलवाया. छोटे-छोटे रोल्स के बाद 1962 में आई आरती ने शशिकला को फिल्मों में पहचान दिला दी.

शशिकला ने ओम प्रकाश सहगल से शादी की लेकिन ये शादी ज्यादा नहीं टिक पाई. शादी के बाद शशि दो बेटियों की मां बनीं लेकिन वह फिर अपने पति और बेटियों को छोड़कर एक व्यक्ति के साथ विदेश चली गईं. शशिकला को लगा था कि ये व्यक्ति उन्हें खुश रखेगा लेकिन ऐसा नहीं हुआ. वह व्यक्ति उन्हें शारीरिक और मानसिक प्रताड़ना देने लगा जिसके बाद किसी तरह शशिकला इंडिया लौटीं. यहां उनके पास रहने के लिए छत नहीं थी तो उन्होंने फुटपाथ पर रहकर दिन काटे. फिर वह कोलकाता चली गईं जहां मदर टेरेसा की शरण में 9 साल तक रहीं. शशिकला ने फिल्मों में कमबैक किया जो कि काफी सफल रहा. वह मुझसे दोस्ती करोगे, कभी खुशी कभी गम, परदेसी बाबू जैसी फिल्मों में नज़र आईं. शशिकला ने अपनी दूसरी पारी में टेलीविजन पर भी काम किया. वह अपनापन, दिल देके देखो, आह, किसे अपना कहें और सोनपरी जैसे सीरियलों में नजर आईं.