हिंदी सिनेमा में 80 के दशक में महिलाओं की शक्ति प्रदर्शन को लेकर खूब फिल्में बनीं। ये फिल्में दर्शकों को काफी पसंद आती थी, क्योंकि उन्हें इसमें कुछ नया लगता था। उस दौरान ऐसी कई फिल्में आईं, जिनमें अभिनेता नहीं बल्कि फिल्म की अभिनेत्री लीड किया करती थी।

जीनत अमान के साथ इस सीन को करने में फूल गए थे रजा मुराद के हाथ पैर, छूने से  भी कर दिया था इंकार - Entertainment News: Amar Ujalaवहीं, तब फिल्मों में विलेन का रोल काफी अहम माना जाता था क्योंकि कोई महिला अगर किसी दमदार विलेन से टक्कर लेती थी तो फिर फिल्म में एक अलग ही रोमांच पैदा हो जाता था। इसी दौर निर्देशक अशोक देव ने जीनत अमान के साथ भी कुछ इस तरह की फिल्म बनाई, फिल्म का नाम डाकू हसीना था, इसमें जीनत अमान के अलावा रजा मुराद और रजनीकांत भी अहम भूमिका में थे।

ये फिल्म एक महिला डकैत पर आधारित थी, जिसका शारीरिक शोषण होता है। इसके बाद वह बदला लेने के लिए बंदूक उठा लेती है और डकैत बन जाती है। फिर वह अपने साथ हुई ऐसी हरकत करने वालों से बदला लेती है। वहीं इस फिल्म में रजा मुराद और ज़ीनत के बीच एक रेप सीन भी दिखाया था।

When Zeenat Aman Shoots A Rap E Scene With Cousin Raza Murad - इस मशहूर  विलेन को रियल रिश्तेदार संग देना पड़ा रेप सीन, अभिनेता की हो गई थी ऐसी हालत  |लेकिन जब मुराद को बताया गया कि उन्हें जीनत के साथ एक रेप सीन शूट करना है तो वे पीछे हट गए, क्योंकि उनके दिमाग में एक ही बात थी कि जीनत असल रिश्ते में उनकी बहन लगती हैं।
फिल्म के डायरेक्टर अशोक राव ने उन्हें मनाने की बहुत कोशिश की, लेकिन वे यही कह रहे थे कि कैसे वे अपनी बहन के साथ रेप सीन शूट कर सकते हैं।

जब रजा मुराद ने जीनत अमान को छूने से कर दिया था मना, ऐसे फिल्माया गया उनकी  जिंदगी का सबसे मुश्किल सीन - Entertainment News: Amar Ujalaकाफी समझाने के बाद भी जब रजा नहीं माने तो जीनत ने उनसे बात की। तब जीनत ने समझाया कि बतौर एक्टर हमें रिश्ते नहीं बल्कि अपना काम देखना चाहिए, एक्टिंग के दौरान अभिनेता अपना किरदार निभाता है। जीनत की बात रजा को समझ आ गई और वो ये सीन करने के लिए तैयार हो गए।

Raza Murad was stuck on the national highway! | Hindi Movie News - Times of  Indiaअपने एक इंटरव्यू में रजा मुराद ने बताया था कि फिल्म साइन करने से पहले उन्हें निर्देशक ने इस सीन के बारे में बताया था। लेकिन फिल्म की शूटिंग के दौरान उन्हें याद नहीं था और जीनत अमान के साथ फिल्माया गया ये सीन उनके करियर का सबसे मुश्किल सीन था।

Bday: इस एक्टर की वजह से जीनत अमान को मिली थी पॉपुलैरिटी, फ्लॉप फिल्मों से  हो गई थीं परेशान - Birthday Special Zeenat Aman got popularity due to this  actorफिल्म की कहानी के मुताबिक, रूपा सक्सेना (जीनत अमान) अपने पेरेंट्स के मर्डर के बाद अदालत के चक्कर काटती है। लेकिन जब उसे पता चलता है कि कातिल ने सभी गवाहों को खरीद लिया है तो वह बदला लेने के लिए डकैत बन जाती है। और अपना नाम डाकू हसीना रख लेती है। पुलिस डाकू हसीना का केस एसपी रंजीत सक्सेना (राकेश रोशन) को सौंपती है।

लेकिन बाद में पता चलता है कि रंजीत हसीना का भाई है। फिर दोनों मिलकर अपने पेरेंट्स की मौत का बदला लेते हैं। इस फिल्म में सुपरस्टार रजनीकांत का स्पेशल अपीयरेंस था। उन्होंने डाकू मंगल सिंह का रोल किया था, जिसके गिरोह का सहारा लेकर रूपा डाकू हसीना बनती है। हालांकि, यह फिल्म बॉक्सऑफिस पर फ्लॉप साबित हुई थी।