हमारा देश तो साल 1947 में ही आजाद हो चुका हैं, और इस बार 15 अगस्त को देश की आजादी के 75 साल पूरे हो जाएंगे. आज हम बॉलीवुड की वजह से ही आजादी के दास्तां को सुनते और देखते हैं. बॉलीवुड ने हमे ऐसी कई फिल्में दी हैं जिनसे हम देशभक्ति की प्रेरणा ले सकते हैं.

आपको बता दें कि बॉलीवुड ने देश की आजादी पर आधारित ऐसी कई फिल्मों को निर्माण किया हैं. आज हम आपको ऐसी कुछ फिल्मों के बारे में बताएंगे. जिन्हे देख कर हमें पता चलता है कि हमारे देश के महावीरों ने कैसे बलिदान देकर देश को आजाद करवाया हैं.

1. शहीद

साल 1965 में आई फिल्म “शहीद” में देश के वीर भगत सिंह पर दर्शाया गया हैं. इस फिल्म की कहानी भगत सिंह और बटुकेश्वर दत्त ने खुद लिखा था, और साथ ही इस फिल्म में अमर शहीद राम प्रसाद बिस्मिल ने म्यूजिक दी हैं. फिल्म शहीद में भगत सिंह का किरदार मनोज कुमार ने निभाया हैं.

2.मदर इंडिया

फिल्म मदर इंडिया साल 1957 में आई थी. इस फिल्म में एक महिला राधा जो एक मां का रोल निभाती हैं. इस फिल्म में राधा किसानों से निर्माण की अपील करती हैं. इस फिल्म को देखकर आप लोगों की आंखें आंसुओ से जरूर भीग जाएंगी. इस भारतीय फिल्म को ऑस्कर अवॉर्ड से भी नजावा गया हैं.ये भारत की पहली फिल्म थी जिसे ऑस्कर मिला था. इस फिल्म में राधा का किरदार नर्गिस ने निभाया हैं.

3. गांधी

बॉलीवुड की इस फिल्म में विदेशी कलाकारों को लिया गया था. साल 1982 ने आई फिल्म गांधी में महात्मा गांधी के जिंदगी के बारे में दर्शाया गया हैं. इस फिल्म में गांधी जी का किरदार एक विदेशी कलाकार बेन किंग्सले ने निभाया था.

4. द लीजेंड ऑफ भगत सिंह

साल 2002 में आई फिल्म “द लीजेंड ऑफ भगत सिंह” देश के महावीर भगत सिंह की दास्तां बताती हैं. कैसी भगत सिंह ने बलिदान देकर देश को आजाद करवाया हैं. इस फिल्म में भगत सिंह का किरदार एक्टर अजय देवगन ने निभाया हैं.

5. मंगल पांडे “द राइजिंग”

साल 1957 में आई फिल्म मंगल पांडे “द राइजिंग” ईस्ट इंडिया कंपनी के सैनिक मंगल पांडे की जीवन पर आधारित हैं. इन्होंने ही अंग्रेजो के खिलाफ कदम उठाया था.

6. रंग दे बसंती

साल 2006 में आई एक्टर आमिर खान की फिल्म रंग दे बसंती ने बॉक्स ऑफिस खूब नाम कमाया था. इस फिल्म से देशभक्ति का भी पता चलता हैं, और इस फिल्म ने योवाओ का हौसले और जोश दोनों को बढ़ावा भी दिया है.

7. लगान

आमिर खान की निभाई हुई फिल्म लगान को भी ऑस्कर अवॉर्ड से नवाजा गया हैं. मदर इंडिया के बाद ये भारत की दूसरी फिल्म थी जिससे ऑस्कर मिला हो, इस फिल्म में भारतीय लोगों के अंग्रेजो के खिलाफ संघर्ष को कहानी दिखाई गई हैं.

 

ये भी पढ़े: अच्छी से अच्छी स्क्रिप्ट को भी अपनी एक्टिंग से सत्यानाश कर देने वाले 7 बॉलीवुड स्टार, एक तो है पूरी दुनिया में मशहूर